तेजन्यूजहेडलाईन्सचा तिसऱ्या वर्धापण दिन व दिवाळी निमित्त सर्व वाचकांना हार्दिक शुभेच्छा!

Wednesday, 8 April 2020

कोरोना के चलते घरों में होगी इबादत- अलहज ऐजाज मौलाना



डोणगाव :- ८

मुस्लिम समाज का पवित्र रमजान महिना शुरु होने के 15 दिन पहले शब-ए-बारात त्यौहार मनाएं जाता है,इस साल भी मनाया जाऐगा। इसी शब-ए-बारात को लेकर बुलडाणा जिले के डोणगांव शहर के  बिलाल मस्जिद के सदर अलहज ऐजाज मौलाना ने कहां की इस साल शब- ए-बारात 9 अप्रैल गुरुवार को मनाई जाएगी, उन्हें यह भी कहा की खतरनाक कोरोना वायरस को देखते हुए देश में लॉकडाउन  और संचारबंदी है इसलिए मुस्लिम भाई यो ने अपने अपने घरों में ही इबादत करें और लॉकडाउन का पालन करें,प्रशासन का साथ दे,शब-ए -बारात का मतलब होता है छुटकारे की रात यानी गुनाहों से निजात की रात, मजहब-ए-इस्लाम में इस रात की बडी अहमियत बयान की गई है। इस दिन शहर के मुस्लिम समाज अपने अपने घरों में रहकर अल्लाह का जिक्र, कजा व नफिल नमाज पडे,और जुम्मे के  दिन   रोजा रखें,तस्वीह,व कुरान की तिलावत करें,मुस्लिम समाज से अपील करते हुए कहा की खतरनाक कोरोना वायरस बीमारी की मुश्किल घडी में गरीबों, बेसहारा, बेवाओं और यतीम का  ख्याल रखें, जितनी मदद हो सके गरिबों की मदत करें,  कोही भी आपना  पडोसी भूखा न सोने पाए इस का खयाल रखें, खासतौर पर कोरोना वायरल जैसी बीमारी से सूफी संतों का भारत देश मे फैलने से रोकने के लिए अल्लाह से दुआ करें। देश में लागू लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें, घरों से कोई भी बाहर ना निकले, लॉकडाउन की वजह शब-ए-बारात के दिन कब्रिस्तान में ना जाएं, अपने अपने घरों में इबादत करें, कोई भी किसी तरह की भीड जमा ना करें, इस बात का ख्याल रखें, हमारी वजह से कोई परेशान ना हो लिहाजा अपने घरों में ही रहे,
एहतियात इलाज से बेहतर हैं घर में रहे महफूज रहे, अल्लाह की बारगाह में रो रो कर दुआ करें कि यह कोरोना वायरस बीमारी जल्द से जल्द खत्म हो जाए ऐसा बिलाल मस्जिद के सदर अलहज ऐजाज मौलाना ने कहा।



जमील पठाण
8805381333 / 8804935111

No comments:

Post a Comment